रचना चोरों की शामत

Saturday, 6 April 2013

नम हवा फुलवारियों की












नम हवा फुलवारियों की, खूब भाती है मुझे।
प्रेरणा बन, नित्य नव कविता सुनाती है मुझे।
 
रात को जब नींद में, सपने सुनाते लोरियाँ,
प्रात प्यारी शबनमी, आकर जगाती है मुझे।
 
लाल सूरज जब समंदर, में उतरता शाम को,
तब क्षितिज की स्वर्ण सी, आभा लुभाती है मुझे
 
रूप जब विकराल होता, गर्मियों में धूप का,
नीम की ठंडी हवा, झूला झुलाती है मुझे।
 
सावनी बरसात की, आँगन में लगती जब झड़ी,
नाव कागज़ की वो भूली, याद आती है मुझे।
 
शीत जब परवान चढ़ती, काँपता थर-थर बदन,
धूप अपनी गोद में, हँसकर बिठाती है मुझे।
 
चाँदनी रातों में जब तुम याद आते हो कभी।
ख़ुशबुओं का एक झोंका बन रिझाती है मुझे।
 
प्रिय तुम्हारे साथ का अहसास है ताकत मेरी,
कल्पनाहर ऋतु परी, तुमसे मिलाती है मुझे।   

----------कल्पना रामानी

9 comments:

shashi purwar said...

waah bahut sundar didi . hardik badhai .....aapki gajal ne dsare rang dikha diye pyar ke, khushboo ke

Mansi Khatri said...

Vry vry beautiful.....pad kar kho gaye hm!!!

Mansi Khatri said...

Vry vry beautiful.....pad kar kho gaye hm!!!

अर्चना ठाकुर said...

हृदय से लिखी ह्रदय सी सुंदर गजल..

shashi purwar said...


बहुत सुन्दर प्रस्तुति!
--
आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा कल बुधवार (10-04-2013) के (चर्चा मंच-1210) पर भी होगी!
सूचनार्थ.. सादर!
साहित्य खजाना पर भो होगी .आप अपनी अनमोल समीक्षा मंच पर जरूर कीजिये , स्वागत है आपका मंच पर
सूचनार्थ
सादर

shashi purwar said...

बहुत सुन्दर प्रस्तुति!
आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि-
आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा आज बुधवार (10-04-2013) के "साहित्य खजाना" (चर्चा मंच-1210) पर भी होगी! आपके अनमोल विचार दीजिये , मंच पर आपकी प्रतीक्षा है .
सूचनार्थ...सादर!

मन के - मनके said...

लगा कि,हर तरफ--उम्मीदों का समंदर फैला हुआ है,

अभिषेक कुमार अभी said...

आपकी इस अभिव्यक्ति की चर्चा कल रविवार (20-04-2014) को ''शब्दों के बहाव में'' (चर्चा मंच-1588) पर भी होगी!
--
हार्दिक शुभकामनाओं के साथ
सादर

Kailash Sharma said...

प्रिय तुम्हारे साथ का अहसास है ताकत मेरी,
‘कल्पना’ हर ऋतु परी, तुमसे मिलाती है मुझे।
...बहुत खूब...बहुत सुन्दर अभिव्यक्ति...

समर्थक

मेरी मित्र मंडली

सम्मान पत्र

सम्मान पत्र

सम्मान पत्र

सम्मान पत्र